आईपीएल में मेहनत पर किस्मत भारी, आईपीएल में टॉस कितना अहम

आईपीएल तो आप जानते ही है एक टीम हार के कारण करोड़ो फैंस का दिल टूट जाता है वही कुछ टीम के फैंस जश्न मानते है इस साल टॉस जीतने वाली टीम को मैच जितने के संभवना 10 प्रतिशत बढ़ जाती है तो चलिए विस्तार से समझते है

आईपीएल मेहनत से ज्यादा किस्मत पर खेला जाता है इसमें करोड़ो लोगो के पैसा लगा हुआ होता है लेकिन इस साल 2022 में टॉस जितने वाले टीम पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया है और 80 प्रतिशत खेल रन चेज करने वाली टीम जीती है सिर्फ इसी साल में नहीं पिछले सीजन में भी ऐसा ही हुआ था तो क्या खेलने से ज्यादा टॉस जीतना महत्वपूर्ण हो गया है? चलिए समझते है।

अगर हम 2016 से लेकर 2021 तक आईपीएल का रिकॉर्ड देखते है तो टॉस जीतकर बाद में बल्लेबाजी करने का फैसला लिया है और उम्मीदें 60 प्रतिशत बढ़ी है 2016 से लेकर 2021 तक आईपीएल का कुल 364 मैच खेले गए जिसमे पहले बल्लेबाजी करने वाली टीम 150 मैच में जित मिली वही 214 मैच बाद में बल्लेबाजी करने वाली टीम ने जीत हासिल की है।

इसलिए जित की संभावना 60 प्रतिशत बढ़ने की वजह से लक्ष्य को पूरा करने में जाता है टॉस जितने वाला कप्तान पहले दबाजी का ही फैसला लेना उचित समझा है।

GridArt 20220402 091856633
आईपीएल पोटो :सोशल मिडिया

पूर्व भारतीय क्रिकेटर सबा करीम कहते हैं- पावर हिटर्स की मौजूदगी से कप्तान अपनी रणनीति में बदलाव कर सकते है कप्तानों का मानना है की उसके टीम में कोई एक पावर हिटर हो जिससे रन चेज करना बहुत आसान हो जाता है। इसलिए गेंदबाजी ज्य्दा आसान माना जाता है।

क्रिकेटर का मानना है बाद में बल्लेबाजी करने से ओस की भूमिका बैटिंग करने के लिए महत्पूर्ण होते है पहले पारी खेलने से ओस पूरी तरह सुख जाती है जिससे बॉल को आगे का रास्ता साफ दिखाई परता है लेकिन पहल बैटिंग करने वाले टीम के लिए ग्राउंड कठिन रहा है पहले 5 ओवर में आउट होने की संभवना बढ़ जाती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published.